Breaking Newsअध्यात्मअन्य राज्यअपराधआगराआर्टिकलइंदौरइलाहाबादउज्जैनउत्तराखण्डएटाकरियर & जॉबखेलगोरखपुरग्राम पंचायत बाबूपुरग्वालियरछत्तीसगढ़छुपा रुस्तमजबलपुरजम्मू कश्मीरझारखण्डझाँसीटेक्नोलॉजीदेशनई दिल्लीपंजाबफिरोजाबादफैजाबादबिहारभोपालमथुरामध्यप्रदेशमनोरंजनमहाराष्ट्रमहिलामेरठमैनपुरीयुवाराजनीतीराजस्थानराज्यरामपुररीवालखनऊविदिशाविदेशविधि जगतसतनासम्पादकीयसागरहरियाणाहाथरसहिमाचल प्रदेशहोम

*भारत सरकार का अब बड़ा फैसला टिक टॉक समेत 59 चाइनीस ऐप्स हुए बैन, चीन को लगा बड़ा झटका पे झटका देखिए खास खबर*

भारत हिंदुस्तान

Advertisment
Advertisment
20200702_183822
20200702_183822
Advertisment Advertisment 20200702_183822 20200702_183822

*भारत सरकार का बड़ा फैसला टिक टॉक समेत 59 चाइनीस ऐप्स हुए बैन, चीन को लगा बड़ा झटका*

Advertisment
Advertisment

💥 *जनता की आवाज* 💥

*राजधानी एक्सप्रेस न्यूज़ – हलचल आज की*

भारत सरकार ने बहुत ही अहम फैसला लिया है। टिक टॉक,जेंडर, विगो समेत अन्य 59 चीनी ऐप को बैन करने का बड़ा फैसला लिया गया है।

इन सभी में सबसे प्रचलित ऐप टिकटॉक था परंतु अब सरकार ने इसे बैन करने का फैसला लिया है। दरअसल यह चीनी ऐप IT एक्ट 2020 के तहत बंद किए गए हैं

क्योंकि इन ऐप्स के माध्यम से भारतीयों का डाटा चीन तक जाता था और चीन इसका उपयोग मनमाने ढंग से कर सकता था।

इसका एक और कारण यह भी है कि गलवान घाटी में चीन के द्वारा भारत के 20 जवानों की धोखे से क्रूर हत्या भी है।

चीनी सरकार ने अपने देश में सभी बाहरी ऐप्स को बैन कर रखा है। चीन में फेसबुक 2009 से ही बैन है। चीन में व्हाट्सएप और अन्य कई अमेरिकी ऐप्स बैन है,

चीन अपने यहां किसी भी प्रकार के मार्केट दूसरे देशों के साथ नहीं बांटता है और अपने हार्डवेयर सॉफ्टवेयर और कई प्रोडक्ट इन इंटरनेशनल मार्केट समेत भारत को बेचना चाहता है।

एक तरफा नीति से चीन को कई मिलियन डॉलर्स का फायदा होता है।इन सब में भारत चीन के लिए एक बहुत ही अच्छा बाजार उपलब्ध कराता है

अब भारत सरकार के इस फैसले से चीन को बहुत ही बड़ा झटका लग सकता है।

मैहर से रितिक साहू की रिपोर्ट

Related Articles

Back to top button
Close