Breaking Newsदेशसैफई

अन्तर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस पर ग्राम कौड़हा रेहुवाखास में आयोजित हुआ विधिक साक्षरता शिविर

Advertisment
Advertisment
20200702_183822
20200702_183822
Advertisment Advertisment 20200702_183822 20200702_183822
Advertisment
Advertisment
>बहराइच 01 मई। अन्तर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस के अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण बहराइच के तत्वावधान में विकास खण्ड फखरपुर अन्तर्गत ग्राम कौड़हा रेहुवाखास मंे श्रमिकों के लाभार्थ विधिक साक्षरता शिविर/सेमिनार/गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, बहराइच के सचिव नवनीत कुमार भारती कार्यक्रम के मुख्य अतिथि रहे।
इस अवसर पर अपने सम्बोधन में श्री भारती ने कहा कि यह सही है कि  किसी भी नामचीन भवन के निर्माण में अपना खून पसीना एक कर देने वाले श्रमिक का नाम उसकी दीवारों पर नहीं लिखा जाता है, लेकिन इससे श्रमिक के महत्व को नज़र अंदाज नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि उत्पादन की सबसे महत्वपूर्ण कड़ी श्रमिक की हर समय और हर मंच पर उचित सम्मान होने से जहाॅ उसकी कार्यक्षमता में बढ़ोत्तरी होगी तो इससे उसके नियोजक को भी लाभ होगा। श्री भारती ने श्रमिकों को अन्तर्राष्ट्रीय श्रमिक दिवस की बधाई देते हुए उनका आहवान्ह किया कि विधिक रूप से साक्षर हों जिससे अज्ञानता के कारण किसी भी स्तर पर उनका शोषण न हो और वह अपने अधिकारों को प्राप्त करने में किसी दूसरे से पीछे न रह जायें।
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री भारती ने प्राधिकरण के अधीन संचालित कार्यक्रमों की जानकारी प्रदान करते हुए श्रमिकों का आहवान्ह किया कि किसी भी प्रकार की विधिक सहायता, परामर्श के लिए अपने आवेदन-पत्र दे सकते हैं। प्राधिकरण द्वारा तत्परता के साथ श्रमिकों की समस्याओं का निदान कराया जायेगा। श्री भारती ने श्रमिकों का आहवान्ह किया कि विधिक रूप से साक्षर होकर अपने अधिकारों के प्रति सजग रहें और जब भी अपने अधिकारों की बात करें तो अपने कर्तव्यों को कतई नज़र अंदाज़ न करें, ऐसा करने से उनके सामने कोई समस्या उत्पन्न नहीं होगी। कार्यक्रम के दौरान मौजूद लोगों को यह भी बताया गया कि आगामी 13 जुलाई 2019 को सिविल कोर्ट परिसर में राष्ट्रीय लोक अदालत लगेगी। सभी वादकारीगण इस आयोजन का भरपूर लाभ उठायें।

Related Articles

Back to top button
Close